पंजाब का 20 दिनों में लक्ष्य का आधा गेहूं खरीदने का दावा, लेकिन केंद्र की खरीद 32 फीसदी घटी

पिछले साल की तुलना में इस वर्ष 27 फीसदी अधिक गेहूं आया है। पिछले साल रबी सीजन में 20 अप्रैल तक 53.35 लाख टन गेहूं आया था। इस वर्ष अभी तक जो गेहूं आया है उसमें से 61.95 लाख टन गेहूं की खरीद सरकारी एजेंसियों ने की है जबकि 3.45 लाख टन गेहूं निजी एजेंसियों ने खरीदा है

पंजाब का 20 दिनों में लक्ष्य का आधा गेहूं खरीदने का दावा, लेकिन केंद्र की खरीद 32 फीसदी घटी

पंजाब सरकार ने गेहूं खरीद शुरू होने के पहले 20 दिनों में लक्ष्य का आधा गेहूं खरीद लेने का दावा किया है। राज्य में एक अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू हुई है। मौजूदा मार्केटिंग सीजन में राज्य सरकार ने 130 लाख टन गेहूं खरीदने का लक्ष्य रखा है। राज्य की मंडियों में 20 अप्रैल तक 67.5 लाख टन गेहूं की आवक हुई जिसमें से 65.4 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है।

सरकार की तरफ से जारी आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है। बयान में कहा गया है कि पिछले साल की तुलना में इस वर्ष 27 फीसदी अधिक गेहूं आया है। पिछले साल रबी सीजन में इस तारीख तक 53.35 लाख टन गेहूं आया था। इस वर्ष अभी तक जो गेहूं आया है उसमें से 61.95 लाख टन गेहूं की खरीद सरकारी एजेंसियों ने की है जबकि 3.45 लाख टन गेहूं निजी एजेंसियों ने खरीदा है।

संगरूर में सबसे अधिक गेहूं मंडियों में आया है। वहां 19 अप्रैल तक 7.27 लाख टन गेहूं मंडियों में आया जिसमें से 7.18 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है। फिरोजपुर में 5.4 लाख टन और पटियाला में 5.31 लाख टन गेहूं की आवक हुई है। राज्य में 35.02 लाख लाख हेक्टेयर इलाके में गेहूं की बुवाई हुई थी और इस वर्ष कुल 171 लाख टन उत्पादन की उम्मीद है

पंजाब सरकार ने भले ही 20 दिनों में लक्ष्य का आधा गेहूं खरीदने का दावा किया हो, केंद्र की तरफ से गेहूं की खरीद में गिरावट आई है। खबरों के मुताबिक 17 अप्रैल तक केंद्र की तरफ से गेहूं की खरीद 32 फीसदी गिर कर 69.24 लाख टन थी। एक साल पहले रबी मार्केटिंग सीजन में इस तारीख तक 102 लाख टन गेहूं की खरीद की गई थी। रबी का मार्केटिंग सीजन अप्रैल से मार्च तक चलता है लेकिन ज्यादातर खरीद जून तक पूरी हो जाती है। केंद्र सरकार ने इस वर्ष 444 लाख टन गेहूं खरीदने का लक्ष्य रखा है। पिछले साल भी 433.44 लाख लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी जो अब तक का सर्वाधिक है।