एग्रीटेक स्टार्टअप ओटीपी करेगी विस्तार, सीरीज बी फंडिंग में जुटाए 235 करोड़ रुपए

वेस्टब्रिज, एसआइटी और ओमिडयार नेटवर्क इंडिया ने ओटीपी में निवेश किया है, इस रकम का इस्तेमाल सप्लाई चेन मजबूत करने, नई कैटेगरी जोड़ने और नए क्षेत्रों में विस्तार करने में किया जाएगा

एग्रीटेक स्टार्टअप ओटीपी करेगी विस्तार, सीरीज बी फंडिंग में जुटाए 235 करोड़ रुपए

एग्रीटेक स्टार्टअप ओटीपी (Otipy) ने सीरीज बी फंडिंग में 235 करोड़ रुपए जुटाए हैं। इस फंडिंग में मुख्य भागीदारी वेस्टब्रिज कैपिटल की रही है। पुराने निवेशकों एसआइजी और ओमिडयार नेटवर्क इंडिया ने भी इस सीरीज में पैसा लगाया है। करीब छह महीने पहले ओटीपी ने सीरीज ए फंडिंग के तहत 76 करोड़ रुपए जुटाए थे। ओटीपी भारत का पहला कम्युनिटी ग्रुप खरीद प्लेटफॉर्म है जो ताजे उत्पाद खरीदता है। इसका संचालन क्रोफार्म एग्रीप्रोडक्ट्स करती है।

दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में ओटीपी ऑनलाइन सेगमेंट में प्रमुख कंपनी है, जो रोजाना 100 टन से ज्यादा ताजे उत्पाद खेत से उपभोक्ताओं तक पहुंचाती है। उत्पाद नष्ट होने का अनुपात सिर्फ तीन फीसदी है। यह इंडस्ट्री में सबसे कम तो है ही, पारंपरिक सप्लाई चेन की तुलना में दस गुना बेहतर है। इसके वेयरहाउस से उपभोक्ता तक उत्पाद पहुंचाने का लॉजिस्टिक्स खर्च भी इंडस्ट्री में सबसे कम, सिर्फ चार रुपए प्रति किलो है।

ओटीपी के संस्थापक और सीईओ वरुण खुराना ने कहा, “अपने तेज सप्लाई चेन और कम्युनिटी नेटवर्क के जरिए हमारा लक्ष्य उपभोक्ताओं तक ताजा और बेहतर क्वालिटी के उत्पाद कम कीमत पर उपलब्ध कराना है। सीरीज बी फंडिंग से हमें नए इलाकों में विस्तार करने, सप्लाई चेन मजबूत करने और नई टेक्नोलॉजी में निवेश करने में मदद मिलेगी।”

ओटीपी फसल की तुड़ाई के बाद 12 घंटे के भीतर उसे उपभोक्ताओं तक पहुंचाती है। इस वित्त वर्ष में इसका कारोबार पांच गुना बढ़कर 100 करोड़ रुपए को पार कर जाने की उम्मीद है। दिल्ली एनसीआर के अलावा सोनीपत, मेरठ और भिवाडी जैसे शहरों में इसके पांच लाख ग्राहक हैं।

वेस्टब्रिज कैपिटल के एमडी संदीप सिंघल ने कहा, “ओटीपी के साझेदारी करके हम बहुत खुश हैं। कम्युनिटी ग्रुप खरीद मॉडल के जरिए इन्होंने रोजाना इस्तेमाल होने वाली आवश्यक वस्तुओं के बाजार में अच्छी दखल बनाई है। इससे किसानों, कम्युनिटी लीडर्स और उपभोक्ताओं सबको फायदा हो रहा है।”