Technology

धान के बीज में ड्वार्फिज्म वायरस नहीं, अगले सीजन में बीज के रूप में हो सकता है  इस्तेमाल

धान के बीज में ड्वार्फिज्म वायरस नहीं, अगले सीजन में बीज के रूप में हो सकता है इस्तेमाल

आईएआरआई के कृषि वैज्ञानिकों ने धान में बौनेपन की समस्या का हल ढूंढा है। धान के बीज...

रूरल वॉयस विशेषः जानिए  किसानों के लिए कैसे फायदेमंद है सोलर डीहाइड्रेटर और स्लाइसर मशीन

रूरल वॉयस विशेषः जानिए किसानों के लिए कैसे फायदेमंद है सोलर डीहाइड्रेटर और स्लाइसर मशीन

अधिकतर सब्जियां और मसाले नमी ज्यादा होने के कारण जल्दी खराब होने लगतेे हैं। इससे...

स्वर्ण वैदही प्रजाति से मखाने की उपज बढ़ी, जीआई टैग से किसानों को व्यापार बढ़ाने में मिलेगी मदद

स्वर्ण वैदही प्रजाति से मखाने की उपज बढ़ी, जीआई टैग से किसानों को व्यापार बढ़ाने में मिलेगी मदद

मखाना का 90 फीसदी उत्पादन बिहार में ही होता है। इसे फ़सलों का काला हीरा भी कहा जाता...

आईआईटी गुवाहाटी के शोधकर्ताओं की उपलब्धि, बगास से तैयार किया चीनी का विकल्प

आईआईटी गुवाहाटी के शोधकर्ताओं की उपलब्धि, बगास से तैयार किया चीनी का विकल्प

गन्ने की पेराई के बाद निकलने वाले बगास से चीनी का विकल्प जाइलिटोल तैयार किया जा...

रूरल वॉयस विशेषः खुले में पशु प्रबंधन की आधुनिक टेक्नोलॉजी है वर्चुअल फेंसिंग, जानिए कैसे करता है काम

रूरल वॉयस विशेषः खुले में पशु प्रबंधन की आधुनिक टेक्नोलॉजी है वर्चुअल फेंसिंग, जानिए कैसे करता है काम

पहले किसान बांस और लकड़ियों, तार आदि से फेसिंग करते थे। लेकिन नई तकनीक विकसित होने...

'क्राप दर्पण' ऐप का नया वर्जन विकसित, फसल की बीमारी के साथ समाधान भी बताएगा

'क्राप दर्पण' ऐप का नया वर्जन विकसित, फसल की बीमारी के साथ समाधान भी बताएगा

क्राप दर्पण ऐप फसलों को प्रभावित करने वाले रोगों के लक्षणों की छवि देखकर पहचानने...

रूरल वॉयस विशेषः सेहत और सुंदरता दोनों में काम आने वाले सीवीड की खेती दे सकती है अच्छा मुनाफा

रूरल वॉयस विशेषः सेहत और सुंदरता दोनों में काम आने वाले सीवीड की खेती दे सकती है अच्छा मुनाफा

सीवीड पोषक तत्व से भरपूर होते हैं। इसका इस्तेमाल खाने से लेकर फसल की पैदावार बढ़ाने...

रूरल वॉयस विशेष:  कम लागत वाली मिलेट्स डिहलर मशीन से प्रोसेसिंग कर दस गुना लाभ कमाएं

रूरल वॉयस विशेष: कम लागत वाली मिलेट्स डिहलर मशीन से प्रोसेसिंग कर दस गुना लाभ कमाएं

मिलेट्स की बढ़ती मांग को देखते हुए सरकार द्वारा प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, मूल्य वर्धित...

रूरल वॉयस विशेष: शुष्क क्षेत्रों में इंटीग्रेटेड शीप फार्मिंग किसानों की आय बढ़ाने का बेहतर जरिया

रूरल वॉयस विशेष: शुष्क क्षेत्रों में इंटीग्रेटेड शीप फार्मिंग किसानों की आय बढ़ाने का बेहतर जरिया

शुष्क एरिया में एक एकड़ फसलों के साथ 25 से 30 भेड़ों का पालन किया जा सकता है जिसमें...

आईआईटी मद्रास ने की  कृषि अपशिष्ट को एंजाइम में बदलने वाले बैक्टीरिया की पहचान, उद्योगों को मिलेगा फायदा

आईआईटी मद्रास ने की कृषि अपशिष्ट को एंजाइम में बदलने वाले बैक्टीरिया की पहचान, उद्योगों को मिलेगा फायदा

कृषि अपशिष्ट का सदुपयोग हो सके इसके लिए पिछले कई वर्षों से काम किया जा रहा है। इसी...

रूरल वॉयस विशेषः स्वच्छ दूध उत्पादन तकनीक, जानिये क्यों है यह  जरूरी

रूरल वॉयस विशेषः स्वच्छ दूध उत्पादन तकनीक, जानिये क्यों है यह जरूरी

सालाना 18.88 करोड़ टन दूध उत्पादन के साथ भारत दुनिया मे नंबर एक पर बना हुआ है। लेकिन...

फसलों में नाइट्रोजन के सटीक प्रबंधन के लिए ग्रीन सीकर और क्लोरोफिल मीटर का करें प्रयोग

फसलों में नाइट्रोजन के सटीक प्रबंधन के लिए ग्रीन सीकर और क्लोरोफिल मीटर का करें प्रयोग

फसलों की  जरूरत के मुताबिक उर्वरकों का संतुलित मात्रा में इस्तेमाल किया जाय। जिससे...

सेंसर बताएगा मीट की क्वालिटी, हैदराबाद विश्वविद्यालय ने किया एमओयू

सेंसर बताएगा मीट की क्वालिटी, हैदराबाद विश्वविद्यालय ने किया एमओयू

हैदराबाद विश्वविद्यालय ने इंडियन काउंसिल आफ एग्रीकल्चरल रिसर्च नेशनल रिसर्च सेंटर...

रूरल वॉयस विशेषः ओपन सी केज फिश फार्मिंग से लीजिए 50 गुना तक अधिक मछली उत्पादन

रूरल वॉयस विशेषः ओपन सी केज फिश फार्मिंग से लीजिए 50 गुना तक अधिक मछली उत्पादन

केज सिस्टम का उपयोग समुद्र के अलावा नदियों, बड़े जलाशयों और तलाब में भी किया जा...

रूरल वॉयस विशेष: हाइड्रोपोनिक तकनीक से खेती में लीजिए 20 से 25  गुना ज्यादा पैदावार

रूरल वॉयस विशेष: हाइड्रोपोनिक तकनीक से खेती में लीजिए 20 से 25 गुना ज्यादा पैदावार

हाइड्रोपोनिक खेती बिना मिट्टी के की जाती है। इस तकनीक में पौधे के लिए जरूरी पोषक...

पानी की  शुद्धता  की जांच के लिए आईआईटी कानपुर ने कम लागत वाली  ई. कोलाई  किट विकसित की

पानी की शुद्धता की जांच के लिए आईआईटी कानपुर ने कम लागत वाली ई. कोलाई किट विकसित की

आईआईटी कानपुर के विशेषज्ञों की टीम ने ई. कोलाई जल परीक्षण किट विकसित की है जो पानी...

गांधी के सपनों का भारत

गांधी निर्विवादित ढंग से पूरी दुनिया के लिए प्रकाश पुंज हैं। आज दुनिया के सामने जितने भी संकट हैं उन सब पर गांधी 1909 में “हिन्द स्वराज”...

Opinion

आज के दौर में गांधी के ग्राम स्वराज की हकीकत

गांधी जी स्वशासन के जरिए गांवों को आदर्श गांव बनाने के लिए पूरी स्वायत्तता के साथ पंचायती राज कायम करने की चाह रखते थे। उनके जन्म...

Opinion

समय पर बारिश नहीं होने से चालू खरीफ सीजन में धान समेत कई फसलों का बुवाई का रकबा घटा

देश के कुछ हिस्सों में समय से  बारिश नहीं होने के कारण चालू खरीफ सीजन में धान की फसल का रकबे में पिछले साल के मुकाबले 5.23 फीसदी,...

National

नेफेड को 2021-22 में 139 करोड़ रुपए का मुनाफा, 15% लाभांश देने का फैसला

नेफेड के प्रबंध निदेशक राजबीर सिंह ने एजीएम में बताया कि वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान नेफेड ने 19,752 करोड़ रुपए का कारोबार किया जिसमें...

National

कृभको को वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 1493.26 करोड़ रुपये का लाभ, शेयर पूंजी पर बीस फीसदी लाभांश घोषित

कृषक भारती सहकारी लिमिटेड (कृभको), ने वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 1493.26 करोड़ रुपये का कर-पूर्व लाभ अर्जित किया है। समिति ने वर्ष...

Cooperatives

छोटे व सीमांत किसानों के फायदे के लिए भारत सरकार कटिबद्धः नरेंद्र सिंह तोमर

केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है  कि भारत कृषि और खाद्य प्रणालियों की स्थिरता से संबंधित चुनौतियों...

International

We use cookies  to do things like remember what you've browsed, show your conent we think  you'll be interested. If you are happy with the use of cookies by RV, click ok