बी2बी प्लेटफॉर्म अग्रिम ने जुटाए एक करोड़ डॉलर, बिजनेस बढ़ाने में करेगी इस्तेमाल

अग्रिम भारत के 50 अरब डॉलर की एग्री इनपुट इंडस्ट्री के लिए सबसे बड़ा डिजिटल प्लेटफॉर्म तैयार कर रही है। इसके लिए वह रिटेलर्स को सीधे मैन्युफैक्चरर से जोड़ती है और सभी पार्टियों को डिस्ट्रीब्यूशन, क्रेडिट, लॉजिस्टिक्स और मार्केटिंग के सॉल्यूशन प्रदान करती है

बी2बी प्लेटफॉर्म अग्रिम ने जुटाए एक करोड़ डॉलर, बिजनेस बढ़ाने में करेगी इस्तेमाल

बी2बी प्लेटफॉर्म अग्रिम (एजीआरआईएम) ने सीरीज ए फंडिंग के तहत एक करोड़ डॉलर जुटाने की घोषणा की है। इस राउंड की फंडिंग करने वालों में वेंचर कैपिटल फर्म कलारी कैपिटल प्रमुख है। उसके अलावा मौजूदा निवेशकों ओमनीवोर, इंडिया कोशंट, एक्सियन वेंचर लैब्स ने भी निवेश किया है। एक्सिस बैंक ने भारत बैंकिंग इनीशिएटिव के तहत इस राउंड की फंडिंग में शिरकत की है।

अग्रिम भारत के 50 अरब डॉलर की एग्री इनपुट इंडस्ट्री के लिए सबसे बड़ा डिजिटल प्लेटफॉर्म तैयार कर रही है। इसके लिए वह रिटेलर्स को सीधे मैन्युफैक्चरर से जोड़ती है और सभी पार्टियों को डिस्ट्रीब्यूशन, क्रेडिट, लॉजिस्टिक्स और मार्केटिंग के सॉल्यूशन प्रदान करती है। यह सभी तरह के एग्री इनपुट कैटेगरी के बिजनेस में है। जैसे बीज, फर्टिलाइजर, फसल सुरक्षा, मवेशी पोषण और फार्म इंप्लीमेंट्स।

ग्रामीण इलाकों में एग्री इनपुट बिक्री करने वाले रिटेलर्स के सामने सीमित मात्रा में उपलब्धता, कीमतों पर संशय, प्रोडक्ट की गुणवत्ता पर सवाल के साथ-साथ कार्यशील पूंजी की ऊंची लागत जैसी समस्याएं होती हैं। दूसरी तरफ एंग्री इनपुट निर्माताओं को अपना बिजनेस बढ़ाने, विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों में अपने प्रोडक्ट की पहुंच बढ़ाने, कार्यशील पूंजी के प्रबंधन और लॉजिस्टिक्स का बेहतर इस्तेमाल करने जैसी समस्याएं होती हैं। अग्रिम का डिजिटल प्लेटफॉर्म मौजूदा बहुस्तरीय डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम को छोटा करता है।

अभी अग्रिम की मौजूदगी 500 जिलों में है। इसके प्लेटफार्म पर 2500 से अधिक मैन्युफैक्चरर्स और 170,000 से अधिक रिटेलर जुड़े हुए हैं। प्लेटफार्म इस राउंड की फंडिंग का इस्तेमाल बेहतर प्रतिभाओं को कंपनी से जोड़ने, फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट के डेवलपमेंट और बिजनेस बढ़ाने में करेगी। साल 2022 में इसे सालाना ग्रॉस मर्चेंडाइजिंग वैल्यू (जीएमवी 10 करोड़ डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। गुड़गांव स्थित अग्रिम की स्थापना अप्रैल 2020 में आईआईटी खड़गपुर के एल्युमनी तथा उद्यमी मुकुल गर्ग और अभि जैन ने की थी।

अग्रिम के सह संस्थापक और सीईओ मुकुल गर्ग ने कहा, “बीते 15 महीने में हमने अपने प्रोडक्ट को बाजार के अनुरूप बनाने में सफलता पाई है। इस निवेश से हमें नई कैटेगरी और नए इलाकों में बिजनेस बढ़ाने में मदद मिलेगी। इस फंड का इस्तेमाल बेहतरीन लोगों को प्लेटफार्म से जोड़ने और रिटेलर्स के लिए फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी सर्विसेज लॉन्च करने में किया जाएगा।”

कलारी कैपिटल के पार्टनर वमषि कृष्ण रेड्डी ने कहा कि हम भारत के एग्री इनपुट रिटेल मार्केट को बदलने में अग्रिम के विजन के साथ शामिल होने को लेकर उत्साहित हैं। संस्थापकों की टीम का गहरा अनुभव है। साथ ही यूनिट स्तर पर लाभप्रदता पर उनका काफी फोकस है। इन बातों ने हमें निवेश के लिए प्रेरित किया।

एक्सिस बैंक के ग्रुप एक्जीक्यूटिव और भारत बैंकिंग प्रमुख मुनीष शारदा ने कहा, “एक्सिस बैंक ग्रामीण क्षेत्रों के लिए विशेष प्रोडक्ट और प्रोसेस से जुड़कर खास तरह का भारत बैंक बनने पर फोकस कर रहा है। अग्रिम में निवेश हमारी भारत बैंकिंग रणनीति के मुताबिक है। हम उनके ग्राहकों को उचित बैंकिंग प्रोडक्ट और सेवाएं उपलब्ध कराते हुए अग्रिम के साथ मजबूत साझेदारी का निर्माण करना चाहते हैं।”