25 सितंबर को पहले राष्ट्रीय सहकारिता सम्मेलन को संबोधित करेंगे अमित शाह

केंद्र सरकार के सहकारिता विभाग और इफको द्वारा भारत के पहले सहकारिता सम्मेलन का आयोजन 25 सितंबर को किया जारहा हैसहकारिता मंत्रालय के पहले सहकारिता मंत्री के रूप में सहकारिता क्षेत्र को अपने पहले संबोधन में, अमित शाह शनिवार को देश भर की विभिन्न सहकारी समितियों के करोड़ो सदस्यों को संबोधित करेंगे।

25 सितंबर को पहले राष्ट्रीय सहकारिता सम्मेलन को संबोधित करेंगे अमित शाह

नई दिल्ली 23, सितंबर 2021

केंद्र सरकार के सहकारिता विभाग और इफको द्वारा  भारत के पहले सहकारिता सम्मेलन का आयोजन 25 सितंबर को किया जा रहा है। सहकारिता मंत्रालय के पहले मंत्री के रूप  में अमित शाह शनिवार को देश भर की विभिन्न सहकारी समितियों के सदस्यों को इस सम्मेलन के जरिये संबोधित करेंगे।

इस राष्ट्रीय सहकारी सम्मेलन में 2,000 लोग व्यक्तिगत रूप से शामिल होंगे, जबकि दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में सहकारी  क्षेत्र से वीडियो क्राफ्रसिंग के जरिए देश भर के सहकारी सदस्य शामिल होंगे। सहकारिता मंत्रालय के विजन को प्रदर्शित करने वाला यह पहला कार्यक्रम होगा।

इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 25 सितम्बर 2021 को प्रातः 11 बजे से इफको, भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ,अमूल, सहकार भारती, नैफेड, कृभको के आधिकारिक सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एवं अन्य माध्यमों से किया जाएगा जिससे देश एवं विदेश के करोड़ों लोग इस कार्यक्रम को देखेंगे। हाल ही में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में सहकारिता मंत्रालय का गठन किया गया है और मंत्रालय की बागडोर अमित शाह को सौंपी गयी । देश में सहकारिता आंदोलन को मज़बूत करने के लिए एक अलग प्रशासनिक, कानूनी और नीतिगत ढाँचा प्रदान करने, सहकारी समितियों को जमीनी स्तर तक पहुँचाने वाले एक जन आधारित आंदोलन के रूप में मज़बूत करने में मदद करने एवं सहकारी समितियों के लिए ईज़ ऑफ डूइंग बिज़नेस के लिए प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करने और बहु-राज्य सहकारी समितियों (एमएससीएस) के विकास को सक्षम करने के लिए गठित सहकारिता मंत्रालय का मूल मंत्र है ।

प्रधानमंत्री मोदी जी के ‘सबका साथ, सबका विकास’ के स्वप्न को अमली जामा पहनाने हेतु सहकारिता मंत्रालय निश्चित रूप से अभूतपूर्व कार्य करेगा। भारत के पहले सहकारिता सम्मेलन का आयोजन भारत की अग्रणी सहकारी संस्था इफको,भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ, अमूल, सहकार भारती, नैफेड, कृभको एवं अन्य सहकारी संगठन मिलकर कर रहे हैं। देशभर के अलग-अलग राज्यों एवं विभिन्न सहकारी क्षेत्रों के प्रतिनिधि इस सम्मेलन में शामिल  होंगे।

इस सम्मेलन में इंटरनेशनल कोआपरेटिव एलांयस (ग्लोबल) के अध्यक्ष डॉ. एरियल ग्वार्को भी शामिल हो रहे हैं। विश्व के110 देशों की लगभग 30 लाख सहकारी संस्थाएँ इंटरनेशनल कोआपरेटिव एलांयस (ग्लोबल)से जुड़ी हुई हैं।