मैनकाइंड फार्मा ने एग्रीटेक सेगमेंट में रखा कदम, किसानों को फसल बचाने के सॉल्यूशन मुहैया कराएगी

कंपनी ने कहा है कि वह भारतीय किसानों को फसलों की देखभाल के लिए सॉल्यूशन मुहैया कराएगी। इसमें वीडिसाइड (खरपतवारनाशक), इंसेक्टिसाइड और फंगीसाइड के अलावा पौधों के विकास में मददगार इनपुट और बायोलॉजिकल शामिल हैं

मैनकाइंड फार्मा ने एग्रीटेक सेगमेंट में रखा कदम, किसानों को फसल बचाने के सॉल्यूशन मुहैया कराएगी

फार्मास्यूटिकल कंपनी मैनकाइंड फार्मा में एग्रीकल्चर टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में कदम रखा है। इसके लिए इसने मैनकाइंड एग्रीटेक प्राइवेट लिमिटेड नाम से नई कंपनी लॉन्च की है। यह टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में इनोवेशन का इस्तेमाल एग्री इनपुट सेगमेंट में करेगी।

एक बयान में कंपनी ने कहा है कि वह भारतीय किसानों को फसलों की देखभाल के लिए सॉल्यूशन मुहैया कराएगी। इसमें वीडिसाइड (खरपतवारनाशक), इंसेक्टिसाइड और फंगीसाइड के अलावा पौधों के विकास में मददगार इनपुट और बायोलॉजिकल शामिल हैं। कंपनी का कहना है कि वह देश की खाद्य सुरक्षा की दिशा में कार्य करेगी। इसके लिए वह नए टेक्नोलॉजी टूल में निवेश करेगी।

मैनकाइंड एग्रीटेक की लांचिंग की घोषणा करते हुए मैनकाइंड फार्मा के मैनेजिंग डायरेक्टर और वाइस चेयरमैन राजीव जुनेजा ने कहा, एग्रीटेक के क्षेत्र में हम लंबे समय के लिए निवेश करना चाहते हैं। पहले दो-तीन वर्षों में 150 से 200 करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैनकाइंड एग्रीटेक भारतीय किसानों के लिए फसल बचाने की विश्व स्तरीय टेक्नोलॉजी लेकर आएगी। भारत में कृषि क्षेत्र के विकास में टेक्नोलॉजी काफी अहम भूमिका निभा रही है। यदि किसानों को सही उत्पाद और टूल मिले तो वे सही फैसला लेने की स्थिति में भी होंगे।

मैनकाइंड एग्रीटेक के प्रमुख पार्थ सेनगुप्ता होंगे जो एग्रोकेमिकल इंडस्ट्री के जाने-माने नाम हैं। उनका इस इंडस्ट्री में तीन दशक से अधिक का अनुभव है। वे भारत बांग्लादेश और नेपाल में धानुका एग्रीटेक लिमिटेड के नेशनल मार्केटिंग हेड होने के साथ सीनियर लीडरशिप टीम का भी हिस्सा थे। सेनगुप्ता ने कहा कि हम किसानों को विश्वस्तरीय क्वालिटी प्रोडक्ट मुहैया कराने के साथ उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उपलब्ध नवीनतम टेक्नोलॉजी से भी रूबरू कराएंगे।